शनिवार, 31 दिसंबर 2011

मित्रों का अनुराग और पानी की बौछार

ख़िरकार वर्ष 2011 बीत गया और वर्ष 2012 आ गया .आईये हम सब मिलकर बीते वर्ष की बिदाई करें तथा नए वर्ष 2012 का स्वागत करें .हालाँकि सब कुछ वही है केवल समय चक्र बदल रहा है .  वर्ष 2011 के अंतिम दिन मौसम ने अंगड़ाई ली और असमान से बौछारें पड़ने लगी है . ऐसा लग रहा है मानों बारिस की बूंदें भी नए वर्ष का स्वागत कर रही हो. शाम से लगातार बारिस हो रही है और अभी तक यानी रात के 11.50 बजे तक जब मई यह पोस्ट लिख रहा हूँ बारिस थमने का नाम नहीं ले रही है .थर्टी फर्स्ट मनाने वाले को निश्चित रूप से परेशानी हो रही होगी .  कुछ लोग टी.वही.से चिपके होंगे . मोबाईल,फेसबुक, ब्लाग और ई-मेल में बधाइयों की बरसात हो रही है . एक बधाई सन्देश पढ़ नहीं पाते कि दूसरा सन्देश आ जाता है. समय पर हम अपना बधाई सन्देश भेज नहीं पा रहे है . इस पोस्ट के माध्यम से आप सबको बधाई सन्देश भेजने का प्रयास कर रहा हूँ ,कृपया इस सन्देश के साथ मेरा बधाई सन्देश स्वीकार करे .
 


आप सबको नव-वर्ष 2012 की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं !        

गुरुवार, 10 नवंबर 2011

श्री गायत्री मन्त्र

     श्री गायत्री मन्त्र ...


              

सोमवार, 31 अक्तूबर 2011

एक और एक ग्यारह ; छत्तीसगढ़ इलेवन



आज 1 नवंबर 2011 है और आज एक के अंक की पांच आवृत्तियां एक साथ है . इस वर्ष 2011 में यह दुर्लभ संयोग तीसरी बार आया है . पहली बार  1 जनवरी 2011 को एक की चार आवृत्तियां 1.1.11 एक साथ थी . दूसरी बार 11 जनवरी को जब पांच आवृत्तियां 11.1.11 एक साथ थी . अब 1 नवंबर को तीसरी बार एक के अंक का यह दुर्लभ संयोग आया है . दस दिन बाद पुनः एक दुर्लभ संयोग आने वाला है . 11.11.11 को अंकीय संयोग इस साल चौंका और एक का अंक छक्का मारेगा . ऐसा दुर्लभ संयोग सौ साल में देखने को मिलता  है . 

छत्तीसगढ़ भी आज अपने निर्माण के 11 साल पूरे कर रहा है . तत्कालीन प्रधानमंत्री माननीय अटलबिहारी वाजपेयी ने पूरे मनोयोग से 1.11.2000 को छत्तीसगढ़ ,उत्तराखंड और झारखण्ड का निर्माण किया था . तीनों नवोदित राज्य आज विकास की दिशा में तेजी से दौड़ रहे है लेकिन छत्तीसगढ़ सबसे तेज है . मध्यप्रदेश का छत्तीसगढ़ अंचल अब छत्तीसगढ़ इलेवन हो गया है . एक और एक ग्यारह होते है इस कहावत को छत्तीसगढ़ सरकार  ने चरितार्थ करते हुए मिलजुल कर शांति और विकास की दिशा में जनता के साथ कदमताल मिलाया है . 

आप सबको छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण की  11 वीं वर्षगांठ की हार्दिक बधाई  .

जय जोहार  : जय छत्तीसगढ़   
        
                                            



बुधवार, 26 अक्तूबर 2011

दिवाली में राम वन गमन मार्ग एवं हाईटेक पटाखें




दीपावली के अवसर पर पटाखों के प्रदुषण की चिंता बहुत लोगों को रहती है . पिछली दिवाली में भी मैनें पर्यावरण रक्षा  की अपील  की थी , जिसका काफी असर हुआ था .  इस बार भी हम आपके लिए प्रदुषण मुक्त पटाखे ढूंढ़ कर लाये है . आप इन पटाखों का इस्तेमाल करें और घर के बच्चों को भी प्रेरित करें . इन पटाखों से बच्चों को दिवाली का पूरा आनंद तो मिलेगा ही साथ ही साथ पर्यावरण  की भी रक्षा होगी . तो अब शुरू हो जाइये और अपने मनपसंद पटाखे पर क्लिक कीजिये . कैसा लगा यह बताना ना भूलें .

(3)   अनार 



इस बार दिवाली ग्रीटिंग कार्ड में हमने भगवान श्री रामचंद्र जी के वन गमन मार्ग को रेखांकित करने वाला नक्शा प्रकाशित किया है . यह नक्शा छत्तीसगढ़ में राम वन मार्ग शोध दल ने काफी मेहनत के बाद  जारी किया है . 
  आपको दीवाली की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं  !

सोमवार, 22 अगस्त 2011

रेडियो से संस्कृति में विकृति नहीं आती --- अशोक बजाज

 रेडियो श्रोता सम्मेलन भाटापारा की तस्वीरें 

20 अगस्त 2011   

श्रोताओं से खचाखच भरा आशीर्वाद भवन 
सम्मेलन में पहुंचे ललित शर्मा , कांतिलाल बरलोटा व कविता 
वरिष्ठ श्रोता बचकामल  का सम्मान

 नीरा वैष्णव का भी हुआ सम्मान
  कांतिलाल बरलोटा का सम्मान
शेख हुसैन ने सुनाया अपना लोकप्रिय गीत  " चना के दार राजा .....
शेख हुसैन ने सुनाया अपना लोकप्रिय गीत  " नवा सड़किया रेंगें ला मैना .............
   मंच पर अशोक बजाज का सम्मान करते हुए पूर्व विधायक शिवरतन शर्मा
     सम्मेलन को संबोधित करते हुए अशोक बजाज
सम्मेलन को संबोधित करते हुए अशोक बजाज
सम्मेलन को संबोधित करते हुए अशोक बजाज
सम्मेलन को संबोधित करते हुए अशोक बजाज
सम्मेलन को संबोधित करते हुए अशोक बजाज
स्वागत / भेंट
        सम्मेलन संपन्न होने के बाद हाल से बाहर निकलते हुए अशोक बजाज ,शिवरतन शर्मा, डा.प्रदीप जैन एवं  मनिंदर सिंग गुंबर

पारागांव में नशामुक्ति के लिए चौपाल



महिलायें मुख्यमंत्री के विश्वास में खरा उतरें





चौपाल 
रायपुर  / राज्य भंडार गृह निगम के अध्यक्ष अशोक बजाज ने नशामुक्ति के लिए ग्राम पारागांव  में चौपाल लगाकर महिलायों को इस सामाजिक बुराई के खिलाफ सतत संघर्ष करने की अपील की . उन्होंने कहा कि नशापान से व्यक्ति का शारीरिक,मानसिक एवं आर्थिक पतन होता है . नशाखोर व्यक्ति ना केवल स्वयं का बल्कि पूरे समाज को बर्बाद करता है . श्री बजाज ने छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा नशामुक्ति की दिशा में उठाये गए कदमों की सराहना करते हुए कहा कि केवल सरकार के प्रयास से ही इस बुराई को समाप्त नहीं किया जा सकता बल्कि इसके लिए सबको सामने आना पड़ेगा . माननीय मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह ने इस महान पुनीत कार्य के लिए महिलाओं पर भरोसा करके गाँव-गाँव  में भारत माता वाहिनी बनाने का फैसला किया है , अब महिलाओं की जिम्मेदारी है कि वे मुख्यमंत्री के विश्वास में खरा उतरे . उपस्थित जनसमुदाय को युधिष्ठिर चंद्राकर एवं साधना सौरज ने भी संबोधित किया . इस अवसर पर पूर्व सरपंच दुर्गाप्रसाद गौतम , शिवराम देवांगन , तिलकराम देवांगन सहित अनेक लोंगों से जीवन भर नशापान ना करने तथा अन्य लोंगों को भी इस बुराई से दूर रहने हेतु प्रयास करने का संकल्प लिया . कार्यक्रम में जनपद सदस्य सोहन देवांगन , मनमोहन अग्रवाल , अकरम खां , राजेन्द्र देवांगन , उमेंद बांसवार ,कौशल  बांसवार  , शांति बाई देवांगन , मनीषा साकुरे , अवध देवांगन ,  कृष्णा देवांगन, अर्जुन बांसवार , मांगतीन यादव , बगस राम साहू , गीता निषाद मीना देवांगन , कमला देवांगन , सरस्वती साहू , राधा वर्मा , मायावती यादव , सहित भारी संख्या में ग्रामवासी उपस्तिथ थे .
 
 
  पारागांव में नशामुक्ति अभियान के कार्यक्रम में संबोधन
 नशामुक्ति अभियान में जुटी महिलाएं